Connect with us

Howkaise News

Agneepath Scheme 2023 – भारत सरकार ने किया बड़ा बदलाव

Published

on

Agneepath Scheme

अग्निवीर योजना, जिसे आधिकारिक तौर पर “Agneepath Scheme” कहा जाता है, 2022 में भारत सरकार ने युवा लोगों को सेना में भर्ती करने के लिए शुरू किया था।

इस कार्यक्रम में योग्य उम्मीदवारों को अग्निवीरों के रूप में चार साल के लिए नियुक्त किया जाता है, जिसमें वे व्यापक प्रशिक्षण प्राप्त करते हैं और अपने नियमित समकक्षों के साथ देश की सेवा करते हैं। भारत सरकार ने अग्निवीरों का सम्मान करते हुए 2023 में कुछ बदलाव किए है.

Agneepath Scheme (अग्निपथ योजना) की प्रमुख विशेषताएं

  • अल्पकालिक सेवा: अग्निवीर चार साल की सेवा करते हैं, फिर आपने सामन्य नागरिक जीवन में जाते हैं।
  • पूर्ण प्रशिक्षण: कठोर सैन्य प्रशिक्षण अग्निवीरों को आवश्यक अनुशासन और कौशल प्रदान करता है।
  • वित्तीय लाभ: अग्निवीरों को सेवा पूरी होने पर मासिक वेतन, शैक्षिक सहायता और सेवा निधि पैकेज मिलता है।

अग्निपथ योजना के उद्देश्य

  • अधिक युवा प्रोफ़ाइल बढ़ाए : इस Agneepath Scheme का उद्देश्य सशस्त्र बलों में अधिक युवा और सक्रिय कार्यबल लाना है।
  • कर्मचारियों की औसत आयु घटाना: सशस्त्र बलों ने सेवा कर्मियों की औसत आयु को कम करके नवीनतम सैन्य रणनीति और रणनीति को अपना सकते हैं।
  • कौशल विकसित करना : उन्हें बहुमूल्य कौशल और अनुभव मिलता है, जो उनकी सेवा पूरी होने पर विभिन्न नागरिक व्यवसायों में लागू हो सकते हैं।

👉 Rajasthan Sarkar Free Mobile Yojana 2023

👉 उत्तर प्रदेश बीज अनुदान योजना 2023

केंद्र सरकार ने अग्निपथ योजना में किए कई बदलाव

  • अग्निवीरों की आयु सीमा 23 वर्ष कर दी गई है। पहले, आयु सीमा 17.5 से 21 वर्ष थी। इस बदलाव से वे युवा जो 21 वर्ष की आयु के बाद भी Agneepath Scheme (अग्निपथ योजना) में शामिल होना चाहते थे, उन्हें राहत मिली है।
  • सेवा अवधि पूरी होने पर अग्निवीरों को 11.71 लाख रुपये की सेवा निधि मिलेगी। पहले यह 10.41 लाख रुपये था। 10 साल में इस राशि को किस्तों में भुगतान किया जाएगा, जो टैक्स फ्री होगा।
  • सेवा अवधि पूरी होने पर अग्निवीरों को 48 लाख रुपये का जीवन बीमा कवर मिलेगा। यह पहले २५ लाख रुपये था। मृत्यु या अक्षमता की स्थिति में यह दिया जाएगा।
  • सेवा अवधि पूरी होने पर अग्निवीरों को पुलिस, अर्धसैनिक बलों और अन्य सरकारी सेवाओं में प्राथमिकता दी जाएगी। इससे उन्हें बेहतर  रोजगार मिलेगा।

इन बदलावों का उद्देश्य अग्निपथ योजना को अधिक आकर्षक बनाना था। सरकार का मानना है कि ये बदलाव योजना में शामिल होने के लिए युवाओं को प्रेरित करेंगे।

सरकार की प्रतिक्रिया:

सरकार ने अग्निवीर कौशल प्रमाणन कार्यक्रम पर जोर देकर इन समस्याओं को हल किया है. Agneepath Scheme (अग्निपथ योजना) का उद्देश्य अग्निवीरों को विपणन योग्य कौशल प्रदान करना है, जिससे वे नागरिक क्षेत्र में रोजगार पा सकते हैं। सरकार ने अग्निवीरों को उद्यमिता और उच्च शिक्षा के लिए पर्याप्त अवसर देने का भी वादा किया है।

Conclusion:

भारतीय सेना में भर्ती प्रक्रिया में एक बड़ा बदलाव अग्निपथ योजना से दिखाई देता है। योजना का उद्देश्य सशस्त्र बलों को आधुनिक बनाना है और भारत के युवाओं को अवसर देना है, हालांकि इसे समर्थन और आलोचना दोनों मिली है।

Agneepath Scheme (अग्निपथ योजना) का असर अभी देखा जाना बाकी है, और उठाई गई चिंताओं को दूर करने में सरकार की कोशिश इसकी सफलता में महत्वपूर्ण होगी।

👉 More News Reading…HowKaise

Trending