Connect with us

Educational

Computer Kaise Chalate Hain | कंप्यूटर सीखने का आसान तरीका 2023

Published

on

Computer Kaise Chalate Hain

इस डिजिटल इंडिया में Computer का कितना महत्व है, यह तो आपको पता है, पर क्या आपको Computer Kaise Chalate Hain यह मालूम है?, दोस्तों आपको जानकारी है तो अच्छी बात है। 

पर आपको कंप्यूटर चलाना नहीं आता तो हम इस आर्टिकल में यह सीखेंगे कि कंप्यूटर कैसे चलाया जाता है?. इसके लिए हमें कौन से Computer Basics skills की जरूरत है. 

हम इस article में कुछ ऐसा सीखेंगे कि जिससे आप बहुत ही आसानी से Computer चलाना सीख जाएंगे। जिससे आपको आपके Personal और Professional Life में बहुत ही मदद हो जाएगी। चलो तो कम समय में सीखेंगे कुछ आसान तरीकों से कंप्यूटर कैसे चलाया जाता है?

Computer Basics जानकारी | Computer Kaise Chalate Hain

यदि आपको computer चलाना नहीं आता तो आपको पहले कुछ जानकारी रखना जरूरी है. किसी भी चीज को सीखना हो तो उसके मूल को जाना जरूरी होता है, वैसे ही हमें उसके basics, function, और उसके parts की जानकारी रखना आपको आगे जा कर बहुत मददगार होगी। 

आसान शब्दों में कहा जाए तो कंप्यूटर एक मशीन है जो हमें Data स्वरूप में कुछ Process करके हमारा जीवन आसान कर देती है. चले तो दोस्तों हम जानते हैं कुछ कंप्यूटर की बेसिक जानकारी।

कंप्यूटर क्या है?

Computer का अविष्काार प्रमुख रूप से अलग वर्गीकरणों के कारण कोई आसान जानकारी नहीं है। 1822 में चार्ल्स बैबेज द्वारा बनाया गया पहला mechanical computer, आज के कंप्यूटर से बहुत अलग है। 

कंप्यूटर का संक्षिप्त नाम Common Operating Machine Purposely used for Technological and Educational research (कॉमन ऑपरेटिंग मशीन पर्पसली यूज्ड फॉर टेक्नोलॉजिकल एंड एजुकेशनल रिसर्च) है. 

आसान रूप से देखे तो Computer को Calculation “गणना” करने के स्वरुप बनाया गया था. आगे जाकर इसे और भी आसान बनाया गया, ताकि मनुष्य का घंटे का काम कुछ मिनटों में किया जाए। 

Computer में बहुत सारे components, Chipset, और memory पार्ट रहते है, जो आपके input process को समझकर आपको सही output data दे सखे. 

 कंप्यूटर के प्रमुख भाग

दोस्तों हमें Computer Kaise Chalate Hain जानना है तो उसको चलाने वाले कंप्यूटर के प्रमुख भाग की जानकारी हमें होनी चाइए। मुख्य रूप से कंप्यूटर के 2 प्रकार रहते है. एक Internal Parts और दूसरा External Parts. चलो जानते है

Internal Parts

यह कंप्यूटर का सबसे मुख्य parts होते है, इसके नाम के अनुसार यह computer के Internal body में मौजूद होते हैं. उस body component को Cabinet कहते है. इस कैबिनेट मै system processing पार्ट्स जैसे की, Mother Board, CPU, RAM, Power Supply Unit और  कुछ Drives इत्यादि रहते है. 

External Parts:

यह कंप्यूटर का दुय्यम parts होते है, इसके नाम के अनुसार यह computer के External में मौजूद होते हैं. यह component hardware स्वरुप पाए जाते है.  इन सब पार्ट्स को कंप्यूटर के External parts मै लगाया जाता है।

हम इस सभी पार्ट्स को अपने हात से touch कर सकते है, जैसे की, Monitor, Mouse, Keyboard, Printer, Speaker और Scanner इत्यादि. 

प्रमुख रूप से कंप्यूटर Hardware और Software parts से बनता है. 

Copyright By SGS EDUCATION

कंप्यूटर के InPut Devices और OutPut Devices 

Input Devices:

Input devices का मुख्य काम कंप्यूटर से compand pass करके CPU तक डाटा स्वरुप और instruction देना. इनपुट डिवाइस का तीन कॉमन उदाहरण Keyboard, Scanner और Mouse है. चलो तो इनका काम जानते है. 

1. Keyboard:

Keyboard एक ऐसा इनपुट डिवाइस है, जिससे आप text, numbers, symbols इत्यदि टाइपिंग करके Commands पास कर सकते है. हम इसके बिना भी अपना computer चालू या बंद कर सकते है. पर बहुतांश काम मै Keyboard की जरुरत पड़ती है।

2. Scanner 

Scanner का काम document मै text या image को scan करके कंप्यूटर तक पोचाना। यह इनपुट डिवाइस कंप्यूटर मै copy स्वरुप memory storage मै जमा किया जाता है. इससे आप कभी भी computer से print निकालके इस्तेमाल मै लाया जा सकते है.  

3. Mouse

Mouse को एक pointing device और handheld भी कहा जाता है. इसके मदद से कर्सर (Curse) को हम कंप्यूटर स्क्रीन पर हर जगह कंट्रोल और instruction देकर कोई भी काम आसानी से कर सकते है. 

हमने जो input devices देखे उनके अलावा कंप्यूटर के अन्य पार्ट्स जैसे Webcam, Touch screen, Joystick इत्यादि इनपुट डिवाइस मै गिनती होती है. 

Output Devices:

Output Devices की मदद से आप कंप्यूटर मै Data Process command देकर आप आपने मॉनिटर स्क्रीन पर देख सकते है. ज़्यादातर आउटपुट डिवाइस Hardware स्वरुप मै पाए जाता है. जैसे की, Monitor. Printer, headphone, और Speaker इत्यादि।  

1. Monitor

कंप्यूटर मै मुख्य डिवाइसेस के रूप मै Monitor को माना जाता है. क्यों की यह device हमें picture, Images, या अन्य documents स्क्रीन पर दिखती है. जिसे देख कर हम कोई भी काम आसानी से कर सकते है. 

यह डिवाइस TV के तरह LED, LCD या Plasma स्क्रीन मै उपलब्ध है. जो भी उपयोगकर्ता processing की command देता है, उस instruction को फॉलो करके स्क्रीन पर data दिखाई देता है।  

2. Printer

Computer के डिजिटल भाषा मै  documents के text, image को print कराने वाले आउटपुट डिवाइस को Printer कहा जाता है।  

प्रिंटर हमें हार्ड कॉपी के स्वरुप मै photos यानी की virtual content प्रदान कराती है. हम Printer के बिना कंप्यूटर का उपयोग कर सकते है. और अपना काम आसानी से पूरा कर सकते है।  

4. Headphone और Speaker

Headphone और Speaker यह आवाज उत्पन्न करनेवाला output device मै जाना जाता है. यह डिवाइस हम कंप्यूटर से कनेक्ट करके साउंड को सुनने मै इस्तेमाल करता है।   

कंप्यूटर के सभी parts की list:

  • Monitor (मॉनिटर)
  • CPU (Central Processing Unit),
  • Keyboard (कीबोर्ड)
  • Mouse (माउस)
  • Hard Disk (हार्ड डिस्क)
  • Power Supply Unit (PSU)  (पावर सप्लाई यूनिट)
  • Graphic Card (ग्राफिक्स कार्ड)
  • Random-access memory (RAM) (रैम)
  • Read-only memory (ROM) (रोम)
  • GPU (जीपीयू)
  • Mouse Pad (माउस पैड)
  • Storage Unit (स्टोरेज यूनिट)
  • Memory Unit (मेमोरी यूनिट)
  • Motherboard (मदरबोर्ड)
  • Printer (प्रिंटर)
  • Scanner (स्कैनर)
  • Speaker (स्पीकर)
  • Microphone (माइक्रोफोन)
  • Webcam, Video Camera (वेबकैम, विडियो कैमरा)
  • Computer Cabinet Case (कंप्यूटर कैबिनेट केस)
  • Uninterruptible Power Supply (UPS) (यूपीएस)
  • Cooling Fan (कूलिंग फैन)
  • Power Cable (पॉवर केबल)
  • Projector (प्रोजेक्टर)
  • Plotter (प्लॉटर) 
  • Joystick (जोस्टिक)
  • Trackball (ट्रैकबॉल)
  • Video Graphics Array (VGA) Cable (वीडियो ग्राफिक्स अरे केबल)
  • Floppy Disk (फ्लॉपी डिस्क)
  • Pen Drive (पेनड्राइव)
  • Audio Card (ऑडियो कार्ड)

कंप्यूटर चलाने के लिए जितना Internal device का महत्त्व है।  उतना ही External डिवाइस का भी महत्त्व है। वैसे ही Output Device और Input Device का भी महत्त्व है। 

इस सब पार्ट्स की जानकारी लेने के बाद Computer Kaise Chalate Hain यह प्रश्न हमारे मन मै नहीं रहेगा. 

👉 Pan Card Kaise Banaye

👉 E Shram Card Kaise Banaye

👉 SBI बैंक KYC फॉर्म कैसे भरें

कंप्यूटर की कार्य प्रणाली

हमें यह तो पता चला की कंप्यूटर के मुख्य भाग कोनसे होते है. पर Computer के कार्यप्रणाली मै, यूजर इनपुट और आउटपुट डिवाइस के मदद से डाटा को instruction देते है. और प्रोसेसर उस डाटा को समझकर आपको मॉनिटर स्क्रीन पर दिखता है. 

कंप्यूटर की कार्यप्रणाली पांच मुख्य भाग मै बटी है. 

  1. इनपुट             
  2. प्रोसेसिंग             
  3. आउटपुट 
  4. स्टोरेज  
  5. कंट्रोल      

कंप्यूटर कोर्स करने के फ़ायदे | Computer चलाने के फायदे

दोस्तों हमें कंप्यूटर के पार्ट्स के बारे में तो पूरी जानकारी मील गई. पर अब बात आती है. की Computer Kaise Chalate Hain. चले तो जानते है, कुछ आसान और महत्वपूर्ण मुद्दे। 

हम सब अपने शैक्षणिक जीवन में पढ़ाई तो करते है, पर आपने पढाई के साथ कुछ skill शिखना भी उतना  महत्वपूर्ण है. इसलिए हमें कंप्यूटर एक अच्छा ऑप्शन लगता  है, क्यूकि इस डिजिटल युग मै, हमें कुछ अलग करना हो तो कंप्यूटर चलना आना चाइये।  

Computer चलना कुछ मुश्किल बात नहीं है, पर उसे सीखने के लिए आपको कंप्यूटर कोर्स या किसी प्लेटफार्म की मदद लेनी पड़ेगी, जैसे की Youtube, Online कोर्स, या Offline teaching center  इत्यदि।

Computer कोर्स करने के फ़ायदे निम्लिखित

  • Knowledge Skill बढ़ती है।
  • आसानी से Employment मिलना।
  • अच्छी Salary की नौकरी मिलाना। 
  • ऑनलाइन गतिविधियों की जानकारी होना। 
  • Online Work Form Home का अवसर प्राप्त करना. 
  • खुद का Computer Teaching सेंटर खोलने मै मदद.
  • इत्यादि। 

यह आर्टिकल मै Computer Kaise Chalate Hain, और उसके फायदे की पूरी जानकारी हम सब को मिल गई होगी. 

Conclusion 

समझना और शिक्षा प्राप्त करना Computer को चलाने का एक महत्वपूर्ण पहलू है। कम्प्यूटर एक शक्तिशाली और उपयोगी Component  है, जो आजकल हर क्षेत्र में उपयोग किया जाता है। इस आर्टिकल में हमने देखा है कि कम्प्यूटर को कैसे चालिए, जिसमें Hardware की समझ, Software के उपयोग, Operating System के साथ काम करना और इंटरनेट के साथ कनेक्शन का भी उल्लेख किया गया।

इसलिए, हम कह सकते हैं कि आजके समय में Computer का सही उपयोग एक महत्वपूर्ण Skill है, जो हर व्यक्ति को सीखना चाहिए। यह न केवल Personal स्तर पर उपयोगी है, बल्कि Business और Education क्षेत्रों में भी इसका महत्वपूर्ण योगदान होता है। इसलिए, हम सभी को अपनी दिनचर्या में कम्प्यूटर के साथ काम करना और उसके जरिए नई knowledge को अवगत करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।

👉 For More Educational Reading…

Trending